Science me Career Kya Hoga – साइंस में करियर क्या होगा

Science me Career Kya Hoga

Science me Career Kya Hoga – साइंस में करियर क्या होगा

Science me Career Kya Hoga – साइंस में करियर क्या होगा ( In Hindi ) यदि आप Science me Career बनाना चाहते है या साइंस में रूचि रखते है तो Science के क्षेत्र में करियर बनाने के अनेको विकल्प मौजूद है | लकिन Guidance न होने के कारण कंफ्यूज न हो Science me Career एक बेस्ट Option है |

Image source

साइंस लेने के लिए आपको after 10th Science विषय लेकर पढ़ाई करनी होगी | क्योंकि यदि आपने Commerce या Arts विषय लेकर पढ़ाई की तो after 12th आप Science stream नहीं ले सकते है | लेकिन यदि आपने साइंस विषय लिया है तो दूसरे स्ट्रीम में जा सकते है |

After 10th Science लेने के बाद Science me Career बनाने के अनेको option उपलब्ध हो जाते है | यदि आप Doctor, Engineer या Army बनना चाहते है तो यह best option है फिर भी यह क्षेत्र सिर्फ Doctor, Engineer या आर्मी तक ही सिमित नहीं है इनके अलावा साइंस में करियर बनाने के अनेको ऑप्शन उपलब्ध है |

Science me Career Kya Hoga के इस पोस्ट में Science me kitne subject hote hai, Science me kya kya ban sakte hai, के बारें में पूरी जानकारी दी गई है | यह पोस्ट Science के बारें में पूरी Guide ही है | आप इस पोस्ट को शुरू से अंत तक Guidance के रूप में जरूर पढ़े |

Table of Contents

List of Science Subjects

साइंस में कौन-कौन सब्जेक्ट्स होते है ? – Science me kaun kaun subjects hote hai

सबसे पहले हम सब्जेक्ट्स बारें में जानेगें की मुख्य रूप से साइंस में कितने subjects होते है जिन्हे अध्यन कर हम अपनी Degree प्राप्त कर सकते है क्योंकि हम सभी विषयों में डिग्रीयां तो ले नहीं सकते है इसके लिए हमें सब्जेक्ट्स का ज्ञान जरुरी है विषयों के बारें में जानकारी ले कर ही हम अपने करियर का चुनाव कर सकते है |

मुख्य और ऐच्छिक सब्जेक्ट्स है Mathematics, Physics, Chemistry, Biology, Zoology, Botany, Biotechnology, Microbiology, Computer Science, Geology, English etc.

गणित – Mathematics

Mathematics विषय में हमलोग सांख्यिकी, अंकगणित , रेखागणित, त्रिकोणमिति, बीजगणित, कलन आदि का अध्यन करते है इंजीनियरिंग के क्षेत्र में मैथमेटिक्स का बहुत ही महत्व होता है |

भौतकी – Physics

फिजिक्स को परिभाषित करना थोड़ा कठिन है फिर भी साधारणतः हमलोग इसमें प्राकृतिक जगत तथा आतंरिक क्रियाओं के बारें में अध्यन करते है ध्वनि, ऊष्मा, स्थान, कला, द्रव्य, प्रकाश, काल तथा विद्युत अनेक विषय आते है यह साइंस का प्रमुख विषय है इनके सिद्धांत विज्ञान में सभी जगह मान्य होते है |

रसायन विज्ञान – Chemistry

Chemistry विज्ञान में पदार्थो के परमाणुओं , अणुओं, और रसायनिक प्रक्रिया के ऊर्जा के बारें में अध्यन किया जाता है | साधारणतः रसायन विज्ञान में रसायनिक पदार्थो का अध्यन होता है |

जीवविज्ञान – Biology

बायोलॉजी के अंतर्गत जीवधारियों का अध्यन किया जाता है जिसमे जीवित तथा मृत दोनों ही जीव सम्मलित होते है Biology में जीवो की सरंचना, विकास, वर्गीकरण, पहचान, प्रजनन, कार्यो आदि के बारें में जानकारी दी जाती है | इनकी कई भाग है |

प्राणीविज्ञान – Zoology

Zoology जीवविज्ञान का ही Branch है जिसमे हमलोग Animals के evolution, classification, structure, व्यवहार, आदि के बारें में जानकारी प्राप्त करते है |

वनस्पति विज्ञान – Botany 

Botany भी Biology का ही Branch है जिसमे हम वनस्पति तथा Plants के evolution, classification, bacteria, fungi आदि के बारें में अध्यन करते है |

कीटाणु-विज्ञान – Microbiology

Microbiology भी Biology का ही Branch है जिसमे वैक्टीरिया, प्रोटोजोवा, वायरस आदि जैसे सूक्ष्म जीवाणुओं के बारें में अध्यन किया जाता है सूक्ष्म जीवाणुओं से इंसानो, plants, animals पर पड़ने वाले Positive और Negative effect के बारें में जानने की कोशिश होती है |

जैव प्रौद्योगिकी – Biotechnology

Biotechnology यानि living organisms पर टेक्निक का इस्तेमाल करना होता है | जिसमे उत्पादों और पदार्थो को विकसित करने के लिए जीवित प्राणियों और जीवों पर टेक्निक का अध्यन किया जाता है | Medicine, agriculture, खाद्य पदार्थ आदि पर बायोटेक्नोलॉजी द्वारा टेक्निक का कैसे इस्तेमाल करें का अध्यन किया जाता है |

भूगर्भशास्त्रGeology

जियोलॉजी में पृथ्वी के रहस्यों के बारें में जैसे पृथ्वी के अंदर का हलचल , खनिज सम्पदा, बहुमूल्य रत्नो के बारें में अध्यन किया जाता है

कंप्यूटर विज्ञान Computer Science

Computer साइंस में कंप्यूटर से सम्बंधित जानकारी दी जाती है जिसमे कंप्यूटर लैंग्वेज, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज , Web designing, Computer Software and hardware, Networking आदि का अध्यन करवाया जाता है |

यदि आपको Science me Career kya Hoga के पोस्ट के अलावा आर्ट्स में करियर क्या होगा, कॉमर्स में करियर क्या होगा इनके List of Courses के बारें में , Arts और Commerce में क्या क्या बन सकते है कि पूरी जानकारी चाहते है तो हमारे इस post को अवश्य पढ़े |

Arts me Career Kya Hoga – आर्ट्स में करियर क्या होगा

Commerce me Career Kya Hoga – कॉमर्स में करियर क्या होगा

Sceince में Group Subjects ( PCM ), ( PCB ) तथा ( PCMB ) के बारें में जाने |

साइंस में Subjects के ग्रुप के द्वारा पढ़ाई की जाती है After 10th आपको Group सब्जेक्ट्स चुनने होते है जैसे पीसीएम ( PCM ), पीसीबी ( PCB ) तथा पीसीएमबी ( PCMB ) पहले हमलोग जानेंगे की ग्रुप SUBJECTS में कौन- कौन सब्जेक्ट्स आते है जिनको चुनकर हम अपने career में बदलाव ला सकते है | इनके अलावा Extra विषय Computer Science (IT), English or Hindi Language, Physical Education etc है |

PCM पीसीएम के बारें में जाने |

पीसीएम PCM (Physics + Chemistry + Maths) जैसा नाम से ही पता चलता है कि ये तीनो सब्जेक्ट्स मिलकर PCM Subjects बनता है जो छात्र B.E./B.Tech कर Engineering के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है वे PCM Group चुनते है इंजीनियरिंग के अलावा पीसीएम में और भी करियर के Options है जिनके बारें में हम डिटेल्स से बतायेंगे |

इंजीनियरिंग के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए PCM (Physics + Chemistry + Maths) subjects चुनने होते है फिर हमें IIT JEE Entrance Exam पास करने होंगे जिससे हम Top Ranked IIT Engineering College प्राप्त कर सके और टॉप इंजीनियर बन सके जिससे हम लाखो का पैकेज या सैलरी प्राप्त कर सकते है |

IIT Engineering College के अलावा और भी टॉप इंजीनियरिंग कॉलेज है जो अपना Entrance Exams करवाते है और एडमिशन लेते है और इनके भी इंजीनियर टॉप के होते है | आइये जानते है की Engineering Branches कौन कौन से है जिसमे हम अपना करियर बना सकते है |

महत्वपूर्ण Engineering Branches ( B.E./B.Tech ) की सूचि नीचे दी गई है |
Mechanical EngineeringElectrical EngineeringInformation Technology Engineering
Civil EngineeringElectronics & Communication EngineeringMarine Engineering
Mining EngineeringComputer Science EngineeringTool Engineering
Electronics EngineeringChemical EngineeringTextile Engineering
Automobile EngineeringCommunications EngineeringBiotechnology Engineering
Power EngineeringPetroleum EngineeringAerospace Engineering
Construction EngineeringTelecommunication EngineeringEnvironmental Engineering
Production EngineeringMetallurgical EngineeringTransportation Engineering

ये मुख्य इंजीनियरिंग ब्रांचेज के नाम दिए गए है इनके अलावा और भी ब्रांचेज है जिनको complete कर B.E./B.Tech की degree प्राप्त कर सकते है |

B.Arch ( Bachelor of Architecture )

इस कोर्स में Building Construction से सम्बंधित कोर्स करवाया जाता है जिसमे Designing, Planning, Physical Structure के बारे में बताया जाता है गृहनिर्माण से सम्बंधित कार्य जैसे मकान, मॉल, सड़क निर्माण , ईमारत बनाना आदि का अध्यन करवाया जाता है |

Environmental Science – एनवायर्नमेंटल साइंस

जिन लोगो को पर्यावरण में रूचि है वह एनवायर्नमेंटल साइंस ले कर पढ़ाई कर सकते है इसमें आप Disaster Management, pollution Control, Wild Life आदि Environmental  से सम्बंधित कोर्स करवाया जाता है जिनकी डिमांड बहुत है |

Astrophysics – एस्ट्रो फिजिक्स

स्पेस की दुनिया में जिनको दिलचस्पी है वह यह कोर्स कर सकते है अंतरिक्ष के बारें में जानकारी तथा रिसर्च करना आदि बताया जाता है |

Defence

यदि आप डिफेन्स के क्षेत्र में जाना चाहते है तो यह कोर्स आपके लिए best option है | UPSC के द्वारा NDA (National Defense Academy) जो Indian Armed Forces का Joint सर्विसेज होता है का Exam पास कर आप Airforce, Navy, Indian Navel Academy, Army बन सकते है | NDA का Exam दोनों दे सकते है जिन्होंने 12th पास कर लिया है या Appearing में है जिन्होंने Physics, Chemistry, Maths ले कर पढ़ाई की है |

Popular Undergraduate Courses in BSc
IT (Information Technology ) Computer Science Physics
MathematicsChemistryGeology
Nautical Science Polymer ScienceAgriculture
Physical ScienceInstrumentationIndustrial Chemistry
Home ScienceHorticultureFood Technology
PCB पीसीबी के बारें में जाने |

पीसीबी PCB (Physics + Chemistry + Biology ) जैसा नाम से ही पता चलता है कि ये तीनो सब्जेक्ट्स मिलकर PCB Subjects बनता है जो छात्र Medical के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है वे PCB (Physics + Chemistry + Biology ) का चुनाव करते है | मेडिकल के अलावा PCB में और भी Option है जिनमे हम अपना करियर बना सकते है इनके details निचे दिए गए है |

List of Medical Courses
MBBS – Bachelor of Medicine and Bachelor of Surgery

साधारणतः छात्रों का पीसीबी लेने का मुख्य उदेश्य MBBS में एडमिशन लेना और डॉक्टर बनना होता है चुकी यह Medical क्षेत्र का सबसे लोकप्रिय Course है | फिर भी इस क्षेत्र में admission लेना काफी टफ होता है इसमें NEET का Entrance Exam Pass करना होता है, तभी आप MBBS के लिए सरकारी कॉलेज पा सकते है Private Colleges में भी entrance Exam के द्वारा एडमिशन होता है |

छात्रों के लिए MBBS में एडमिशन होना बहुत ही गर्व की बात है क्योंकि वे जानते है की एडमिशन होने के बाद वे डॉक्टर बन कर ही निकलेंगे| MBBS Course एक Bright Career वाला कोर्स होता है |

BAMS ( Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery )

आयुर्वेदिक के क्षेत्र में यह सबसे best course होता है | यदि आप एक आयुर्वेदिक Doctor बनना चाहते है तो BAMS कोर्स करना होगा | आप Entrance Exam पास कर एडमिशन ले सकते है तथा एक आयुर्वेदिक डॉक्टर बन सकते है |

BDS ( Bachelor of Dental Surgery )

दातों से सम्बंधित किसी भी प्रकार का problem के लिए Dental Doctor होते है जिस प्रकार शारीरिक problem के लिए MBBS Doctor होते है उसी प्रकार दातों के किसी भी प्रकार समस्या के लिए Dentist Doctor होते है Dentist बनने के लिए BDS Course करना होगा |

BHMS ( Bachelor of Homeopathic Medicine and Surgery )

यदि आपको होम्योपैथिक डॉक्टर बनना है तो BHMS कोर्स करना होगा | होम्योपैथिक मेडिसिन को ज्यादातर लोग पुरानी बीमारी को जड़ से ख़त्म करने के लिए उपयोग करते है लेकिन ऐसी कोई बात नहीं है यह मेडिसिन सभी प्रकार की बिमारियों के लिए उपयोग किया जाता है होम्योपैथिक डॉक्टर बनने के लिए सबसे बेस्ट कोर्स है |

B.Pharma ( Bachelor of Pharmacy )

यह मेडिसिन कोर्स है जिसमे दवा के बारें में बताया जाता है की कौन सी मेडिसिन किस रोग में उपयोग करना है बी फार्मा एक बहुत ही प्रचलित कोर्स है यह चार वर्षीय कोर्स होता है इस कोर्स को करने के बाद आप मेडिसिन शॉप भी खोल सकते है या मेडिसिन एजेंसी में भी काम कर सकते है फार्मासिस्ट बनकर Govt Job or Private Job भी कर सकते है |

BUMS ( Bachelor of Unani Medicine and Surgery)

यह एक अंडरग्रेजुएट कोर्स है जिसमे Unani पद्धति से बिमारियों का इलाज करने के लिए सिखाया जाता है | Unani पद्धति से बिमारियों को इलाज करने के लिए BUMS एक बहुत ही लोकप्रिय कोर्स है |

BPT ( Bachelor of Physiotherapy )

यह एक बैचलर डिग्री कोर्स है जिसमे व्यक्तियों को इलाज मालिश, व्यायाम और इसी प्रकार के तौर तरीके के द्वारा किया जाता है इसमें शारीरिक चोट, दर्द या उम्र बढ़ने से होने वाली बीमारी का इलाज इन विधियों के द्वारा किया जाता है इसलिए MBBS के बाद फिजियोथेरेपी कोर्स का डिमांड बहुत है |

BASLP ( Bachelor of Audiology & Speech Language Pathology )

इसमें भाषण और श्रवण विकारो से सम्बंधित इलाजो का अध्यन किया जाता है सुनने की झमता की कमियों को जानने और समझने के लिए ऑडिओलॉजिस्ट की जरुरत पडती है दुनियाभर में इनकी डिमांड बढ़ रही है इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिया आपको NEET, AIIIMS, JIPMER जैसे UG Entrance Exam पास करने होंगे |

BMLT ( Bachelor of Medical Lab Technicians )

यह एक अंडरग्रेजुएट कोर्स है इनकी अवधि 3 वर्ष होती है इसमें लेबोरेटरी से सम्बंधित कोर्स करवा जाता है लेबोरटरी में अलग अलग टेस्ट करना सिखाया जाता है | साइंस स्ट्रीम के स्टूडेंट्स ये कोर्स कर सकते है PCM और PCB दोनों तरह के विद्यार्थी ये कोर्स कर सकते है | अलग अलग तरह के टेस्ट के लिए अस्पतालों, प्रयोगशालाओ अनुसन्धान केंद्र में इनकी डिमांड बहुत है |

( B.VSc AH ) Bachelor of Veterinary Science & Animal Husbandry

इस कोर्स में जानवरों तथा पशु पंछियों की बिमारियों को जानना तथा उनका उपचार के बारें में बताया जाता है इसमें जानवरों तथा पशु पंछियों की हर तरह की बिमारियों का ट्रीटमेंट तथा सर्जरी करना सिखाया जाता है | यह कोर्स बहुत ही पॉपुलर है क्योंकि इसमें आप प्राइवेट और गवर्नमेंट दोनों सेक्टर में जॉब कर सकते है |

Popular Undergraduate Courses in BSc for Biology Students
BSc in
BiochemistryMicrobiology
BiologyZoology 
Environmental ScienceBiotechnology
Forensic ScienceRadiology
AgriculturePathology
AnthropologyNursing
PhysiotherapyBioinformatics
GeneticsNutrition and Dietetics
Fisheries SciencesNaturopathy & Yogic Science 

जो स्टूडेंट्स Direct Medical फील्ड में नहीं जाना चाहते है वे एक विषय लेकर विशेषज्ञता प्राप्त कर सकते है तथा रिसर्च क्षेत्र में भी जा सकते है | तथा इन कोर्सेज को करने के बाद इनसे रिलेटेड अन्य क्षेत्रो में भी जा सकते है | जैसे Scientist, Lawyer, Teacher, Nurses आदि |

PCMB पीसीएमबी के बारें में जाने |

ज्यादातर विद्यार्थी मेडिकल या मेडिकल से सम्बंधित कोर्स करने के लिए पीसीएमबी कोर्स चुनते है | इसमें Physics, Chemistry, Math के अलावा Biology सब्जेक्ट भी रहता है इसमें आप PCM और PCB दोनों ग्रुप में से कोई भी कोर्स कर सकते है | ये आपके ऊपर निर्भर करता है की कौन कोर्स करें |

इन्हे भी पढ़े |

BCA Course Kaise Kare – की पूरी जानकारी प्रश्न और उत्तर

Interview Kaise De – इंटरव्यू कैसे दे जाने तरीके

Conclusion :-

Science me Career Kya Hoga – साइंस में करियर क्या होगा के इस पोस्ट में Science में Career बनाने तथा चुनने के बारें में विस्तृत जानकारी दी गई है, उसके बाद Science me kitne subject hote hai, Science me kya kya ban sakte hai की पूरी जानकारी तथा Science me Career Kya Hoga In Hindi के इस पोस्ट में उपलब्ध है | यदि किसी तरह का प्रश्न या सुझाव हो तो comment जरूर करें हम जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे |

हम आशा करते है की Guidance का यह वेबसाइट आपको बहुत पसंद आएगा, पसंद आये तो share जरूर करें | धन्यवाद !

Share

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *